Top Current GK – Union Budget 2018

यूनियन बजट २०१८ में किसानों कि आय को वर्ष २०२२ तक दो गुना करने का लक्ष्य रखा गया है. इसके लिए वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कईं नई योजनाओं की घोषणा की है.
इस साल भारत में टैक्स देने वालों की संख्या १९.२५ लाख बड़ी है जिससे ९० करोड़ रुपये का ज्यादा कलेक्शन होगा
२५० करोड़ तक टर्न ओवर वाली कम्पनयों को सिर्फ २५% टैक्स देना होगा
किसान प्रोडक्शन से जुडी १०० करोड़ तक टर्नओवर वाली कंपनियों को टैक्स में १००% छूट
टैक्स में मेडिकल खर्च पर छूट अब ४० हज़ार रुपये तक, पहले यह सीमा १५ हज़ार रुपये थी
यूनियन बजट २०१८ में इनकम टैक्स की स्टैण्डर्ड दरों में कोई बदलाव नहीं किया गया
वरिष्ठ नागरिकों को ५० हजार रुपये तक के ब्याज पर कोई टैक्स नहीं देना होगा
इस साल काले धन के खिलाफ मुहीम से डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन में बढ़ोतरी हुई है
डायरेक्ट टैक्स इस साल १२.६ प्रतिशत बढ़ा है
ईपीएफ में कर्मचारियों को सरकार की तरफ से १२% राशि का योगदान मिलेगा। अब तक यह योगदान ८.३३ % का था
यूनियन बजट २०१८ में प्रधानमंत्री सड़क योजना के अंतर्गत मैदान क्षेत्रों में ५०० की जनसंख्या वाले और पहाड़ी क्षेत्रों में २५० तक की जनसँख्या वाले १,७८, १८४ निवासियों को सभी मौसमों के दौरान सड़क मुहैया करना रखा गया
प्रधान मंत्री सड़क योजना ३ में १,१०,००० किमी सड़क का उन्नयन प्रस्तावित है। इसके लिए वर्ष २०२२ तक केंद्र सरकार को १९ हजार करोड़ रुपये वार्षिक वित्तपोषण की जरुरत होगी
ऑपरेशन फ्लड की तर्ज पर ऑपरेशन ग्रीन का प्रस्ताव रखा गया जिसके लिए केन्रीय बजट ५०० करोड़ रुपये का रखा गया

 

रेलवे बजट के अंतर्गत रखे गए लक्ष्य
रेलवे का आधुनिकीकरण किया जायेगा जिसके अंतर्गत रेलवे स्टेशनों पर एस्केलेटर, वाईफाई और सीसीटीवी कमरे लगेंगे
मुंबई लोकल का दायरा बढ़ाने का लक्ष्य रखा गया जिसके अंतर्गत मुंबई में ९० किमी पटरी का विस्तार होगा
६०० रेलवे स्टेशनों का आधुनिकीकरण किया जायेगा
पूरा रेल नेटवर्क ब्रॉड गेज बनाए का लक्ष्य
३०० किलोमीटर रेल पटरियों का नवीनीकरण
४००० से ज्यादा मानव क्रासिंग बंद किये जायेंगे
भारतीय रेलवे में ३६०० नयी लाइने बिछाने का लक्ष्य
७०० नए रेल इंजन बनेंगे
वर्ष २०१८ बजट के अंतर्गत ५१६० नए कोच तैयार किये जायेंगे
ऐलीवेटेड कॉरिडोर के निर्माण पर ४०,००० करोड़ खर्च किये जाने का लक्ष्य
रेलवे सुरक्षा वार्निंग सिस्टम पर जोर देने का लक्ष्य

 

 

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *